facebook-pixel
Featured Advertisement
Think With Niche
Synergy Talent Development

व्यावसायिक नैतिकता क्या है और ये क्यों महत्वपूर्ण हैं?

Synergy Talent Development

व्यावसायिक नैतिकता क्या है और ये क्यों महत्वपूर्ण हैं?

what-is-business-ethics-and-why-are-they-important

Post Highlights

सभी व्यवसायों का यह दायित्व होता है कि वे अपने ग्राहकों और कर्मचारियों को बेहतरीन सेवा दें और प्रोफेशनल रूप से काम करें। व्यावसायिक नैतिकता का पालन करने से बेहतर सेवा प्रदान करने में, कंपनी को बढ़ाने में और गुणवत्तापूर्ण कर्मचारियों को बनाए रखने में मदद मिलती है। तो चलिए जानते हैं, व्यावसायिक नैतिकता क्या है।

अपने कंपनी के बेहतर प्रदर्शन के लिए और उन्हें संगठित रखने के लिए कुछ व्यावसायिक नैतिकता को बनाए रखना जरूरी माना जाता है। आप व्यक्तिगत व्यावसायिक नैतिकता भी विकसित कर सकते हैं, जो आपके करियर में आपकी बहुत मदद करेगा।

सभी व्यवसायों का यह दायित्व होता है कि वे अपने ग्राहकों और कर्मचारियों को बेहतरीन सेवा दें और प्रोफेशनल रूप से काम करें। व्यावसायिक नैतिकता का पालन करने से बेहतर सेवा प्रदान करने में, कंपनी को बढ़ाने में और गुणवत्तापूर्ण कर्मचारियों को बनाए रखने में मदद मिलती है। तो चलिए जानते हैं, व्यावसायिक नैतिकता क्या है।

नैतिकता क्या है?

जब आपको सही और गलत का पता होता है और आप उसकी मदद से निर्णय लेने में सक्षम होते हैं, आपको परिस्थितियों का मूल्यांकन करना आता है आदि, ये सभी नैतिकता के अंतर्गत आते हैं। ईमानदारी, जिम्मेदारी, विश्वास यह सभी व्यक्तिगत नैतिकता के अंतर्गत आते हैं, वहीं वफादारी, पारदर्शिता, निष्पक्षता,सम्मान यह सब व्यापार या पेशेवर नैतिकता के अंतर्गत आते हैं।

व्यावसायिक नैतिकता क्या है?

हर उद्योग का अपना-अपना नैतिक आचरण होता है और यह तय करता है कि वो कंपनी ग्राहकों को कैसी सेवा दे रही है। कर्मचारियों का एक दूसरे के प्रति कैसा व्यवहार है और मालिक का कर्मचारियों की तरफ कैसा व्यवहार है। आप आसान भाषा में कह सकते हैं कि प्रत्येक उद्योग का अपना नैतिक आचरण होता है, जो कंपनी में हो रहे विभिन्न प्रक्रियाओं और प्रणालियों को प्रभावित करता है।

सामान्य व्यक्तिगत नैतिकता के उदाहरण 

1.पारदर्शिता

कोई भी ग्राहक या कोई कर्मचारी ऐसी कंपनी के साथ नहीं जुड़ना चाहेगा जो सही तथ्य ना दें और अपनी कही जाने वाली बात पर स्पष्ट ना हो।

एक कंपनी को हर चीज के बारे में स्पष्ट और खुले तौर पर बात करना जरूरी है। ग्राहक भी ऐसी कंपनी को काफी पसंद करते हैं और इससे ग्राहकों और कंपनी के बीच अच्छा रिलेशन बनाता है, जो आगे कंपनी को सफल बनाता है। जनता को अक्सर उसी कंपनी के उत्पाद और सेवा में भरोसा होता है, जो कंपनी अपनी बात को स्पष्ट रूप से पेश करती है।

2.वफादारी

दवाब होने पर भी जब आप अपने निर्णय पर अडिग होते हो, तो ये आपका साहस दिखाता है। चाहे कैसा भी वक्त को कंपनी को हमेशा सही रास्ता ही चुनना चाहिए। यह स्पष्ट करता है कि कंपनी अपने ग्राहकों और कर्मचारियों के प्रति कितनी वफादार है। वफ़ादारी, व्यवसाय में सफलता के लिए एक महत्वपूर्ण घटक है।

3.विश्वसनीयता

ऐसी कंपनियां को ग्राहकों और कर्मचारियों से किए गए वादे को पूरा करती हैं, वे भविष्य में ज्यादा सफल होती हैं। लोग उन लोगों के साथ काम करना और खरीदना पसंद करते हैं, जिनके ऊपर उन्हें भरोसा है। 

4.निष्पक्षता और समानता

वैसे तो सारी ही कंपनियों को निष्पक्ष रूप से कार्य करने का प्रयास करना चाहिए लेकिन इस बात का ध्यान उन कंपनियों को ज्यादा रखना चाहिए जो नई-नई स्थापित हुई हैं। कभी भी प्रतिस्पर्धा के चक्कर में पड़कर सम्मानजनक तरीकों का उपयोग करना ना भूलें। आपको हर ग्राहक और कर्मचारी के साथ समानता का व्यवहार करना है।

5.उत्कृष्टता प्रदान करना।

ग्राहकों को बेहतर उत्पाद और सेवा देना कंपनी का कर्त्तव्य है। नैतिक कंपनियां अपने ग्राहकों को अच्छी सेवा देने के लिए बेहतरीन प्लांस बनाती हैं। वो सर्वोत्तम तरीकों को खोजती हैं, जिनसे वो व्यवसाय में उत्कृष्ट प्रदर्शन कर पाएं।

अपने कंपनी के बेहतर प्रदर्शन के लिए और उन्हें संगठित रखने के लिए कुछ व्यावसायिक नैतिकता को बनाए रखना जरूरी माना जाता है। आप व्यक्तिगत व्यावसायिक नैतिकता भी विकसित कर सकते हैं, जो आपके करियर में आपकी बहुत मदद करेगा।

सभी व्यवसायों का यह दायित्व होता है कि वे अपने ग्राहकों और कर्मचारियों को बेहतरीन सेवा दें और प्रोफेशनल रूप से काम करें। व्यावसायिक नैतिकता का पालन करने से बेहतर सेवा प्रदान करने में, कंपनी को बढ़ाने में और गुणवत्तापूर्ण कर्मचारियों को बनाए रखने में मदद मिलती है। तो चलिए जानते हैं, व्यावसायिक नैतिकता क्या है।

नैतिकता क्या है?

जब आपको सही और गलत का पता होता है और आप उसकी मदद से निर्णय लेने में सक्षम होते हैं, आपको परिस्थितियों का मूल्यांकन करना आता है आदि, ये सभी नैतिकता के अंतर्गत आते हैं। ईमानदारी, जिम्मेदारी, विश्वास यह सभी व्यक्तिगत नैतिकता के अंतर्गत आते हैं, वहीं वफादारी, पारदर्शिता, निष्पक्षता,सम्मान यह सब व्यापार या पेशेवर नैतिकता के अंतर्गत आते हैं।

व्यावसायिक नैतिकता क्या है?

हर उद्योग का अपना-अपना नैतिक आचरण होता है और यह तय करता है कि वो कंपनी ग्राहकों को कैसी सेवा दे रही है। कर्मचारियों का एक दूसरे के प्रति कैसा व्यवहार है और मालिक का कर्मचारियों की तरफ कैसा व्यवहार है। आप आसान भाषा में कह सकते हैं कि प्रत्येक उद्योग का अपना नैतिक आचरण होता है, जो कंपनी में हो रहे विभिन्न प्रक्रियाओं और प्रणालियों को प्रभावित करता है।

सामान्य व्यक्तिगत नैतिकता के उदाहरण 

1.पारदर्शिता

कोई भी ग्राहक या कोई कर्मचारी ऐसी कंपनी के साथ नहीं जुड़ना चाहेगा जो सही तथ्य ना दें और अपनी कही जाने वाली बात पर स्पष्ट ना हो।

एक कंपनी को हर चीज के बारे में स्पष्ट और खुले तौर पर बात करना जरूरी है। ग्राहक भी ऐसी कंपनी को काफी पसंद करते हैं और इससे ग्राहकों और कंपनी के बीच अच्छा रिलेशन बनाता है, जो आगे कंपनी को सफल बनाता है। जनता को अक्सर उसी कंपनी के उत्पाद और सेवा में भरोसा होता है, जो कंपनी अपनी बात को स्पष्ट रूप से पेश करती है।

2.वफादारी

दवाब होने पर भी जब आप अपने निर्णय पर अडिग होते हो, तो ये आपका साहस दिखाता है। चाहे कैसा भी वक्त को कंपनी को हमेशा सही रास्ता ही चुनना चाहिए। यह स्पष्ट करता है कि कंपनी अपने ग्राहकों और कर्मचारियों के प्रति कितनी वफादार है। वफ़ादारी, व्यवसाय में सफलता के लिए एक महत्वपूर्ण घटक है।

3.विश्वसनीयता

ऐसी कंपनियां को ग्राहकों और कर्मचारियों से किए गए वादे को पूरा करती हैं, वे भविष्य में ज्यादा सफल होती हैं। लोग उन लोगों के साथ काम करना और खरीदना पसंद करते हैं, जिनके ऊपर उन्हें भरोसा है। 

4.निष्पक्षता और समानता

वैसे तो सारी ही कंपनियों को निष्पक्ष रूप से कार्य करने का प्रयास करना चाहिए लेकिन इस बात का ध्यान उन कंपनियों को ज्यादा रखना चाहिए जो नई-नई स्थापित हुई हैं। कभी भी प्रतिस्पर्धा के चक्कर में पड़कर सम्मानजनक तरीकों का उपयोग करना ना भूलें। आपको हर ग्राहक और कर्मचारी के साथ समानता का व्यवहार करना है।

5.उत्कृष्टता प्रदान करना।

ग्राहकों को बेहतर उत्पाद और सेवा देना कंपनी का कर्त्तव्य है। नैतिक कंपनियां अपने ग्राहकों को अच्छी सेवा देने के लिए बेहतरीन प्लांस बनाती हैं। वो सर्वोत्तम तरीकों को खोजती हैं, जिनसे वो व्यवसाय में उत्कृष्ट प्रदर्शन कर पाएं।