facebook-pixel
Featured Advertisement
Think With Niche
Success Personal Development

बेहतर बनना है तो खुद को चुनौती दें

Success Personal Development

बेहतर बनना है तो खुद को चुनौती दें

challenge-yourself-to-be-the-best-version-of-yourself

Post Highlights

अगर आप अपने जीवन में सफल होना चाहते हैं, तो सबसे पहले आपको खुद से सच बोलना बोलना पड़ेगा। अपने बारे में, अपने लक्ष्यों के बारे में और अपने रिश्तों के बारे में स्पष्ट होना सीखें। खुद के लिए कुछ अच्छा करने का जुनून आप में नहीं है तो आपको बदलाव की जरूरत है। आज हम आपको बताएंगे कि कैसे आप अपने आप को चुनौती देकर अच्छी आदतों का पालन कर सकते हैं

हम सब अपनी ज़िन्दगी में अच्छा करना चाहते हैं इसीलिए हम खुद को चुनौती देने के लिए कई लक्ष्य बनाते हैं। लक्ष्य बनाना तो फिर भी आसान है लेकिन क्या हम सब उस लक्ष्य को पूरा करने के लिए अपने जीवन में त्याग करने के लिए तैयार हैं? 

अगर आप अपने जीवन में सफल होना चाहते हैं, तो सबसे पहले आपको खुद से सच बोलना पड़ेगा। अपने बारे में, अपने लक्ष्यों के बारे में और अपने रिश्तों के बारे में स्पष्ट होना सीखें। खुद के लिए कुछ अच्छा करने का जुनून आप में नहीं है, तो आपको बदलाव की जरूरत है। 

रोज नई चीज़ें सीखना, व्यायाम करना, जिम जाना, जंक फूड का कम सेवन करना, अच्छे दोस्त बनाना आदि आप सुस्त रहकर नहीं कर सकते हैं। कुछ अच्छा करना है, तो पुरानी बिगड़ी आदतों को बदलना होगा और नई अच्छी आदतों को अपनाना होगा। खुद को चुनौती दें कि आप उन सभी आदतों को छोड़ देंगे, जो आपको आपके लक्ष्य तक नहीं पहुंचने दे रही हैं। यकीन मानिए जीवन में अच्छी आदतों की वजह से सब कुछ बहुत आसान हो जाता है। आज हम आपको बताएंगे कि कैसे आप अपने आप को चुनौती देकर अच्छी आदतों का पालन कर सकते हैं। 

1.लक्ष्य बनाएं  

जो लोग लक्ष्य नहीं बनाते वे ज़िन्दगी में कुछ नहीं हासिल कर पाते। जो लक्ष्य बनाकर उसे पूरा करने के लिए कुछ नहीं करते वो ज़िन्दगी में कुछ चीज़ें हासिल कर पाते हैं और अंत में आते हैं वे लोग जो सोच समझकर लक्ष्य बनाते हैं और उस लक्ष्य पर तब तक टिके रहते हैं जब तक उनका लक्ष्य पूरा नहीं हो जाता। ऐसे लोग ज़िन्दगी में सब कुछ हासिल करने का जुनून रखते हैं। लोग लक्ष्य तो बना लेते हैं लेकिन उसे पूरा करने के लिए उनके पास जुनून नहीं होता है। अगर जीवन में बड़ा बदलाव देखना है, तो लक्ष्य बनाएं और उस पर तब तक टिके रहें जब तक वो पूरा नहीं हो जाता। शुरुआत में आप छोटे-छोटे लक्ष्य बनाइए ताकि आप में मोटिवेशन की कमी ना हो और आप एक तेज रफ्तार से आगे बढ़ते रहें। 

2.अपने कंफर्ट जोन से बाहर निकलें

अपने कंफर्ट जोन से बाहर निकालना बेहद कठिन हैं क्योंकि हम अपनी वही पुरानी दिनचर्या और तौर-तरीकों को अचानक से नहीं बदल सकते, लेकिन सकारात्मक बदलाव के लिए आपको यह करना ही होगा। अपने आराम के क्षेत्र से बाहर निकलर दुनिया को देखिए, नई चीज़ों को आज़माइए, नए-नए शौक को पूरा करिए और लोगों से बात करिए। जब आप अपने कंफर्ट जोन से बाहर निकलकर नई-नई चीज़ें आजमाएंगे, तो आप खुद से यह कहेंगे कि काश मैंने ये सब पहले किया होता। 

नए कौशल और नए अनुभवों की मदद से आप ज़िन्दगी में बहुत कुछ हासिल कर सकते हैं।

3.हर तरह की किताबें पढ़ें

चाहें आप कितने भी व्यस्त क्यों ना रहते हों, किताबें पढ़ना जरूरी है। आसान भाषा में आप यह कह सकते हैं कि जिस तरह हम समय-समय पर अपने शरीर को भोजन देते रहते हैं ठीक उसी तरह हमें अपने दिमाग को ज्ञान देते रहना चाहिए। एक तरह की किताबें पढ़ने की बजाय हर तरह की किताबें पढ़ना शुरू करें। एक लक्ष्य बनाएं कि आप एक साल में कम से कम 40 किताबें जरूर पढ़ेंगे। 

4.अपने परिवार, दोस्तों और पड़ोसियों के लिए समय निकालें

काम की वजह से हम सब काफी व्यस्त रहते हैं और लोगों के लिए समय नहीं निकाल पाते हैं, जो बिलकुल गलत है। अपने परिवार, दोस्तों और पड़ोसियों के लिए समय निकालें, उनसे बात करें, उनके बारे में और जानने की कोशिश करें, आदि। कहने को तो ये बहुत छोटी सी बात है लेकिन फिर भी हर कोई ये नहीं कर पाता है।

5.अपने वॉर्डरोब को सही रखें

क्या आप अपने वॉर्डरोब में रखे सारे कपड़े पहनते हैं? ज्यादातर लोग ना कहेंगे। हम अपने वॉर्डरोब में रखे 30 से 40 प्रतिशत कपड़ों को ही पहनते हैं, कई आउटफिट सिर्फ वॉर्डरोब में रखे रहते हैं और हम उसका कभी इस्तेमाल नहीं करते हैं। ऐसे कपड़ों को वॉर्डरोब में ना रखें और सुबह की बजाय रात में ही यह तय कर लें कि आपको अगले दिन क्या पहनना है।

6.व्यायाम, ध्यान और जिम के लिए समय निकालें

जब आप फिट रहते हैं, तो आप और अच्छे दिखते हैं। अच्छे स्वास्थ्य के लिए व्यायाम, ध्यान और जिम के लिए समय निकालें। बदलाव के लिए आप नई-नई एक्सरसाइज कर सकते हैं।

7.सलाहकार की मदद लेना ना भूलें

आपको सही मार्गदर्शन देने के लिए एक सलाहकार का होना बहुत जरूरी है। अपने क्षेत्र में बेहतर करने के लिए सलाहकार की मदद लेना ना भूलें और उनसे रोज नई चीज़ें सीखते रहें। 

हम सब अपनी ज़िन्दगी में अच्छा करना चाहते हैं इसीलिए हम खुद को चुनौती देने के लिए कई लक्ष्य बनाते हैं। लक्ष्य बनाना तो फिर भी आसान है लेकिन क्या हम सब उस लक्ष्य को पूरा करने के लिए अपने जीवन में त्याग करने के लिए तैयार हैं? 

अगर आप अपने जीवन में सफल होना चाहते हैं, तो सबसे पहले आपको खुद से सच बोलना पड़ेगा। अपने बारे में, अपने लक्ष्यों के बारे में और अपने रिश्तों के बारे में स्पष्ट होना सीखें। खुद के लिए कुछ अच्छा करने का जुनून आप में नहीं है, तो आपको बदलाव की जरूरत है। 

रोज नई चीज़ें सीखना, व्यायाम करना, जिम जाना, जंक फूड का कम सेवन करना, अच्छे दोस्त बनाना आदि आप सुस्त रहकर नहीं कर सकते हैं। कुछ अच्छा करना है, तो पुरानी बिगड़ी आदतों को बदलना होगा और नई अच्छी आदतों को अपनाना होगा। खुद को चुनौती दें कि आप उन सभी आदतों को छोड़ देंगे, जो आपको आपके लक्ष्य तक नहीं पहुंचने दे रही हैं। यकीन मानिए जीवन में अच्छी आदतों की वजह से सब कुछ बहुत आसान हो जाता है। आज हम आपको बताएंगे कि कैसे आप अपने आप को चुनौती देकर अच्छी आदतों का पालन कर सकते हैं। 

1.लक्ष्य बनाएं  

जो लोग लक्ष्य नहीं बनाते वे ज़िन्दगी में कुछ नहीं हासिल कर पाते। जो लक्ष्य बनाकर उसे पूरा करने के लिए कुछ नहीं करते वो ज़िन्दगी में कुछ चीज़ें हासिल कर पाते हैं और अंत में आते हैं वे लोग जो सोच समझकर लक्ष्य बनाते हैं और उस लक्ष्य पर तब तक टिके रहते हैं जब तक उनका लक्ष्य पूरा नहीं हो जाता। ऐसे लोग ज़िन्दगी में सब कुछ हासिल करने का जुनून रखते हैं। लोग लक्ष्य तो बना लेते हैं लेकिन उसे पूरा करने के लिए उनके पास जुनून नहीं होता है। अगर जीवन में बड़ा बदलाव देखना है, तो लक्ष्य बनाएं और उस पर तब तक टिके रहें जब तक वो पूरा नहीं हो जाता। शुरुआत में आप छोटे-छोटे लक्ष्य बनाइए ताकि आप में मोटिवेशन की कमी ना हो और आप एक तेज रफ्तार से आगे बढ़ते रहें। 

2.अपने कंफर्ट जोन से बाहर निकलें

अपने कंफर्ट जोन से बाहर निकालना बेहद कठिन हैं क्योंकि हम अपनी वही पुरानी दिनचर्या और तौर-तरीकों को अचानक से नहीं बदल सकते, लेकिन सकारात्मक बदलाव के लिए आपको यह करना ही होगा। अपने आराम के क्षेत्र से बाहर निकलर दुनिया को देखिए, नई चीज़ों को आज़माइए, नए-नए शौक को पूरा करिए और लोगों से बात करिए। जब आप अपने कंफर्ट जोन से बाहर निकलकर नई-नई चीज़ें आजमाएंगे, तो आप खुद से यह कहेंगे कि काश मैंने ये सब पहले किया होता। 

नए कौशल और नए अनुभवों की मदद से आप ज़िन्दगी में बहुत कुछ हासिल कर सकते हैं।

3.हर तरह की किताबें पढ़ें

चाहें आप कितने भी व्यस्त क्यों ना रहते हों, किताबें पढ़ना जरूरी है। आसान भाषा में आप यह कह सकते हैं कि जिस तरह हम समय-समय पर अपने शरीर को भोजन देते रहते हैं ठीक उसी तरह हमें अपने दिमाग को ज्ञान देते रहना चाहिए। एक तरह की किताबें पढ़ने की बजाय हर तरह की किताबें पढ़ना शुरू करें। एक लक्ष्य बनाएं कि आप एक साल में कम से कम 40 किताबें जरूर पढ़ेंगे। 

4.अपने परिवार, दोस्तों और पड़ोसियों के लिए समय निकालें

काम की वजह से हम सब काफी व्यस्त रहते हैं और लोगों के लिए समय नहीं निकाल पाते हैं, जो बिलकुल गलत है। अपने परिवार, दोस्तों और पड़ोसियों के लिए समय निकालें, उनसे बात करें, उनके बारे में और जानने की कोशिश करें, आदि। कहने को तो ये बहुत छोटी सी बात है लेकिन फिर भी हर कोई ये नहीं कर पाता है।

5.अपने वॉर्डरोब को सही रखें

क्या आप अपने वॉर्डरोब में रखे सारे कपड़े पहनते हैं? ज्यादातर लोग ना कहेंगे। हम अपने वॉर्डरोब में रखे 30 से 40 प्रतिशत कपड़ों को ही पहनते हैं, कई आउटफिट सिर्फ वॉर्डरोब में रखे रहते हैं और हम उसका कभी इस्तेमाल नहीं करते हैं। ऐसे कपड़ों को वॉर्डरोब में ना रखें और सुबह की बजाय रात में ही यह तय कर लें कि आपको अगले दिन क्या पहनना है।

6.व्यायाम, ध्यान और जिम के लिए समय निकालें

जब आप फिट रहते हैं, तो आप और अच्छे दिखते हैं। अच्छे स्वास्थ्य के लिए व्यायाम, ध्यान और जिम के लिए समय निकालें। बदलाव के लिए आप नई-नई एक्सरसाइज कर सकते हैं।

7.सलाहकार की मदद लेना ना भूलें

आपको सही मार्गदर्शन देने के लिए एक सलाहकार का होना बहुत जरूरी है। अपने क्षेत्र में बेहतर करने के लिए सलाहकार की मदद लेना ना भूलें और उनसे रोज नई चीज़ें सीखते रहें।